Spread some love

तेजी से बदलते इस दुनिया में इंटरनेट का बहुत बड़ा योगदान है। आज के समय में सभी चींजे डिजिटल होती जा रही है। अब तो करंसी भी डिजिटल हो चुकी है। जी हां डिजिटल करेंसी जिसे हम  क्रिप्टोकरेंसी भी बोलते हैं। आज मार्केट में कई तरह की क्रिप्टोकरेंसी मौजूद है। आपने हमारे साइट में कई क्रिप्टकरेंसी के बारे में जाना होगा। क्रिप्टोकरेंसी की इस दुनिया में एक और डिजिटल कॉइन है, जिसका नाम है नियो, जी हां नियो कॉइन ने भी मार्केट में धूम मचा रखा है। बिटकॉइन और इथेरियम कॉइन के साथ- साथ नियो कॉइन की डिमांड भी दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में नियो कॉइन को लेकर पूरी जानकारी होना भी बहुत जरूरी है।

क्या है नियो कॉइन (Kya Hai Neo Coin )

नियो भी दूसरे क्रिप्टोकरेंसी की ही तरह एक डिजिटल करेंसी है। जिसका लेन- देन हम सिर्फ इंटरनेट के जरिए ही कर सकते हैं। नियो दुनिया का आठवां सबसे बड़ा क्रिप्टोकॉइन है। जी हां कॉइन मार्केट में नियो कॉइन आठवें नंबर पर रैंक करता है। नियो चीन का पहला open source blockchain है।  नियो Technology drive progress पर विश्वास रखता है। टेक्नोलॉजी इस लिए बेहतर है क्योंकि ये  प्रोग्रेस करती है, चेंज करती है और हेल्प भी करती है प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए। नियो एक non-profit community based ब्लॉकचेन है। नियो basically चीन का प्रोजेक्ट है। और चीन में इसे government support  भी हासिल है। नियो cross chain patent पर काम करता है। यानी की ये बहुत सारे ब्लॉकचेन सिस्टम पर काम कर सकता है। दूसरे कॉइन के मुकाबले ये एक बहुत अच्छी बात है नियो की।

नियो मार्केट में कोई नया कॉइन नहीं है, केवल इसकी re- branding की गई है। नियो कॉइन साल 2014 में  ही बनाया गया था। पहले इसे AntShares कहा जाता था, लेकिन साल 2017 में इसकी re branding की गई। जिसके बाद इसका नाम बदलकर Neo रख दिया गया। नियो को चाइना में “Ethereum of China” के नाम से भी जाना जाता है।

अगर नियो के concept की बात की जाए तो कुछ concept तो इसके दूसरे कॉइन से मिलते हैं, लेकिन कुछ concept इसके ऐसे हैं जो दूसरे करेंसी से बिल्कुल अलग हैं। जैसे हम जानते हैं कि इथेरियम एक प्लेटफॉर्म है, जहां हम decentralized application develop कर सकते हैं और Smart contracts बना सकते हैं। वैसे ही नियो भी एक ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म है जििसे हम digital asset develop करने के लिए और smart contracts बनाने के लिए यूज करते हैं।

कैसे और कहां से खरीदें नियो (Kaise or kaha se kharide Neo )

नियो की खरीददारी करने के लिए आपको सबसे पहले digital wallet open करना होगा। इसके बाद ही आप नियो की खरीददारी और लेन-देन कर सकेंगे। नियो के लिए डिजिटल वॉलेट खोलना बहुत ही आसान है, जहां आप अपनी करेंसी स्टोर कर के रख सकते हैं। आप चाहें तो नियो के साइट The official NEO wallet में जा कर भी वॉलेट बना सकते हैं। ये सुविधा मोबाइल, वेबसाइट और डेस्कटॉप तीनों पर आपको मिल सकती है। इसके अलावे आप इन साइट्स पर भी जा कर नियो की लेन-देन कर सकते हैं।

आपको बता दें कि वहीं कुछ साइट्स ऐसे भी हैं, जहां आप बिटकॉइन और इथेरियम के बदले भी नियो की खरीददारी कर सकते हैं। यानी कि इस साइट्स पर नियो के एक्सचेंज की सुविधा उपल्ब्ध है।

नियो बहुत ही कम समय में बहुत उपर चला गया । नियो की कीमत में बहुत तेजी से उछाल आया। शायद यही वजह है कि आज लोग लॉन्ग टर्म के लिए नियो का चयन करना पसंद करते हैं। नियो delegated byzantine fault tolerant के साथ काम करता है। ये मैकेनिज्म जिस नोड्स पर काम करता है उसे दो अलग- अलग कैटेगरी में बांटा जाता है। वहीं अगर हम नियो में ट्रांजेक्शन की बात करें तो हर सेकेंड यहां 10,000 ट्रांजेक्शन किए जा सकते हैं। जबकि मौजूदा वक्त में इथेरियम 1 सेकेंड में सिर्फ 15 ट्रांजेक्शन ही कर सकता है।

  • bookkeeping nodes
  • users of network

नियो के पार्टनर की बात करें तो वो भी काफी strong है। क्योंकि Microsoft, Bancor, Agrello जैसे ब्रांड इसके साथ जुड़े हुए हैं। ऐसे में आप इस पर विश्वास भी कर सकते हैं।

जो अगर आपको ये article पसंद आया हो तो share करने ना भूले hashtag #CryptoHindi के साथ| और जो अगर आप recent crypto currency update जानना चाहते है तो हमारे ब्लॉग को बुकमार्क कर लें| और जो अगर आपको कुछ भी पूछना या फिर आप कोई feedback देना चाहते है तो हमे कमेंट बॉक्स में बताएं| हम आपको जल्द ही रिप्लाई करेंगे |


Spread some love