Spread some love

क्रिप्टोकरेंसी के बारे में तो आप सभी को मालूम ही है। इथेरियम कॉइन भी क्रिप्टोकरेंसी का ही एक रुप है। बिटकॉइन की ही तरह इथेरियम कॉइन (Ethereum Coin) भी एक वर्चुअल कॉइन (Virtual Coin) है। यानी कि इसे भी आप अपने पॉकेट में नहीं रख सकते हैं। इसका भी लेन- देन ऑनलाइन ही किया जाता है। यह ओपन-सोर्स, पब्लिक ब्लॉकचैन पर आधारित डिस्ट्रिब्यूटेड कंप्यूटिंग प्लेटफार्म (Distributed Computing Platform)है।  यह स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट (Scripting) पद्धति वाला है। यह एक Cryptocurrency Token है, जिसे ईथर (Ether) कहते हैं। जिसे एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में भेजा जा सकता है।  कॉइन मार्किट कैप (Coin Marketing Cap ) के मुताबिक इथेरियम दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी है।

क्या है इथेरियम कॉइन और क्या है इसका इतिहास ( Kya Hai Ethereum Coin or Kya Hai Iska Itihaas)

जैसा कि आपने उपर जाना कि इथेरियम कॉइन भी एक क्रिप्टोकरेंसी ही है। दूसरे क्रिप्टोकरेंसी की ही तरह Ethereum भी एक Desensitization मनी है,  जिसमें किसी सरकार, बैंक या किसी संस्थान का हक नहीं है। मगर कोई सरकार इसे वैध या अवैध जरूर कर सकती है लेकिन कोई सरकार इस पर कंट्रोल नहीं रख सकती। Ethereum भी एक डिजिटल कॉइन है। इसे भी हम ऑनलाइन ही खरीद और बेच सकते हैं। एक रशियन प्रोग्रामर  Vitalik Buterin ने इथेरियम को साल 2013 में क्रिएट किया था। उसने इसका formally announcement जनवरी साल 2014 को यूएसए में किया था। इसके बाद इथेरियम कॉइन को 30 जुलाई साल 2015 को शुरू कर दिया गया।

कैसे काम करता है इथेरियम (Kaise Kaam Karta Hai Ethereum )

इथेरियम भी ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर ही काम करता है। ब्लॉकचेन क्या है इसकी पूरी जानकारी आपको दूसरे पोस्ट में दे दी गई है। ब्लॉकचेन प्रक्रिया का नाम सुनकर आप ये तो समझ ही गए होंगे कि इथेरियम की माइनिंग एक Computerized mining work है। जिसके लिए प्रोसेसिंग पावर की जरूर होती है। इसमें Blockchain Technology के जरिए गणितीय फार्मूलों के द्वारा समाधान कर के माइनिंग का काम किया जाता है। इसकी भी माइनिंग ठीक वैसे ही होती है जैसे बिटकॉइन की माइनिंग की जाती है।  यहां भी Database के सभी रिकॉर्ड एक Computer में Store नहीं होते बल्कि 1000 कम्प्यूटर्स या लाखों कम्प्यूटर्स में वितरित होते है। Blockchain का हर एक कंप्यूटर हर एक रिकॉर्ड के पूरे History का हिसाब रखता है। इथेरियम एक Decentralized नेटवर्क है जिसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है। जिसमें डाउनटाइम, सेंसरसिप या धोखाधडी की कोई संभावना नहीं होती है।

कहां से करें इथेरियम की खरीददारी (Kaha Se Karin Ethereum Ki Kharidari)

दिन-ब-दिन Ethereum की कीमत में भी इजाफा हो रहा है। लोग भविष्य में बड़ी रकम की उम्मीद में लंबे समय तक निवेश कर रहे हैं। अब भारत में इथेरियम की खरीददारी कैसे की जाए। इसके लिए यहां हम कुछ एक्सचेंज के नाम आपको बता रहे हैं।

  • Eethx
  • Ethexindia
  • Koinex
  • CoinMama

ईथर खरीदने के लिए ये कुछ पॉपुलर एक्सचेंज हैं। जहां आप नॉर्मल KYC की प्रक्रिया पूरी कर के इथेेरियम की खरीद- बिक्री आसानी से कर सकते हैं। इसके अलावा आप zebpay से Bitcoin खरीद कर उससे किसी भी exchange पर ट्रान्सफर कर सकते है जैसे की Bittrex. Bittrex में आप अपने Bitcoin के जरिये कोई भी दूसरा कॉइन खरीद सकते है| 

 इथेरियम का भविष्य (Future of Ethereum )

इथेरियम बड़ी ही तेजी से डिजिटल मार्केट में फैल रहा है। इथेरियम क्रिप्टोकरेंसी में दूसरे क्रिप्टोकरेंसी के मुकाबले ट्रांजेक्शन की स्पीड बहुत तेज है।इसके कीमत में बहुत ज्यादा हाइक देखने को मिल रहा है। पूरे दुनिया में बहुत से लोग इस पर इन्वेस्ट भी कर रहे हैं। Decentralized होने की वजह से लोग इसमें इन्वेस्ट भी कर रहे हैं और बिटकॉइन की तरह ही इसके कीमत में भी लगातार इजाफा हो रहा है। बहुत से देशों में क्रिप्टोकरेंसी पर रोक है, लेकिन फिर भी वहां इसके लेन- देन की प्रक्रिया चल रही है। बहुत से देशों में इसे लीगल भी माना गया है। जहां आप एक लिमिट में इसकी earning कर सकते हैं। वहीं अगर हम भारत की बात करें तो यहां क्रिप्टोकरेंसी पर बैन या ट्रेडिंग को लेकर कोई भी साप-साफ रुल्स नहीं बनाए गए हैं। लेकिन कहा तो यही जा रहा है कि इस पर बैन लगाया जा सकता है या फिर हाई टैक्स पेड सिस्टम किया जा सकता है। अब नियम जो भी बने लेकिन फिलहाल तो भारत में भी इथेरियम की ट्रेडिंग की जा रही है।

जो अगर आपको ये article पसंद आया हो तो share करने ना भूले hashtag #CryptoHindi के साथ| और जो अगर आप recent crypto currency update जानना चाहते है तो हमारे ब्लॉग को बुकमार्क कर लें| और जो अगर आपको कुछ भी पूछना या फिर आप कोई feedback देना चाहते है तो हमे कमेंट बॉक्स में बताएं| हम आपको जल्द ही रिप्लाई करेंगे|


Spread some love